IPL Ki Shuruaat Kab hui । आईपीएल की शुरूआत कब और कैसे हुई जाने

IPL Ki Shuruaat Kab hui - क्रिकेट मैचों में रनों की बारिसों के साथ-साथ पैसों की बारिस करने वाले आईपीएल का 14वां सीजन 9 अप्रैल से शुरू हो रहा है। क्रिकेट को धर्म मानने वाले भारत के लिए यह लीग किसी त्‍यौहार से कम नही होती है।

IPL Ki Shuruaat Kab hui । आईपीएल की शुरूआत कब और कैसे हुई जाने
IPL ki shuruaat kab hui


पूरा देश 50 से 60 दिन के लिए
IPL मैंचो से जुड जाता है। IPL में क्रिकेट का इतना बड़ा बाजार लगता है कि दुनिया का कोई क्रिकेटर हो या फिर कोई कम्‍पनी कोई भी पीछे नही रहना चाहता है।

लेकिन क्‍या आपको पता है कि IPL की शुरूआत कब हुई थी। और IPL की शुरूआत कैसे हुई थी। अगर आपको नही पता हो आज की इस पोस्‍ट में हम आपको बतायेगे की ललित मोदी ने आईपीएल की शुरूआत कब और कैसे की।


IPL की शुरूआत कब हुई

IPL की शुरूआत सन 2008 में हुई थी। इसका पहला मुकाबला 18 अप्रैल 2008 को खेला गया था। और अंतिम मुकाबला 1 जून 2008 को खेला गया था। और यह मुकाबला राजस्थान रॉयल और चेन्‍नई सुपर किंग्‍स में हुआ था। राजस्‍थान रॉयल यहां शानदान प्रदर्शन करते हुए जीत हासिल की थी।


IPL की शुरूआत कैसे हुई

इंडियन मीडिया के मुताबकि आईपीएल की शुरूआत की कहानी विवादो से जूडी हुई है। साल था 2007 और BCCI ने ZEE ENTERTAINMENT ENTERPRISES को क्रिकेट मैचो के प्रसारण का अधिकार नही देने के फैसला कर लिया था।

इसके बाद ZEE ने ICL यानी Indian Cricket League बनाने का फैसला कर लिया। और इसमे जोड़ा गया पूर्व दिग्‍गज ऑलराउनडर और National Cricket Academy के तत्‍कालीन अध्‍यक्षक कपील देव और किरन मोर्य को।

ZEE ENTERTAINMENT ने इस लीग में भारत, पाकिस्‍तानऔर बांग्‍लादेश को भी शामिल करने की योजना बनाई। दुनिया के सबसे अमीर क्रिकेट बोर्ड BCCI के लिए यह किसी झटके से कम नही था।


BCCI ने की यह कार्यवाही

BCCI एक्‍शन मे आया और उसने ICL को रोकने के लिए सबसे पहले कपिल देव को National Cricket Academy से निकाल दिया। वही ICC के तत्‍कालीन अध्‍याक्षक मैलकमस्‍पीड को विश्‍वास में लेते हुए एक स्‍टेटमेच जारी करवा दिया।

इसमे लिखा था कि ICC, ICL को मान्‍यता नही दी। BCCI ने चेतावनी भी दी कि कोई खिलाडी ICL से जुडता है तो उसे इंडिया के नेशनल क्रिकेट टीम में जगह नही मिलेगी।


आईपीएल को रोकने की जिम्‍मेदारी ललित मोदी ने ली-

इस घटना के बाद ICL का रास्‍ता रोकने का जिक्र होता है तो नाम आता है सबसे पहले ललित मोदी का। महशूर बिजनेस मैन राजस्‍थान क्रिकेट ऐसोशियशन के तत्‍कालीन अध्‍यक्षक और BCCI के तत्‍कालीन अपाध्‍यक्षक थे।

ललित मोदी ने ICL को रोकने की जिम्‍मेदारी अपने उपर ले ली। अन्‍होने अमेरिका की मेजर बेसबॉल लीग की तर्ज पर क्रिकेट के सबसे छोटे फॉरमेंट टी-20 को सिटी मॉडल के आधार पर शुरू करने का प्‍लान बनाया और इसे नाम दिया गया IPL


IPL के लिए लालित मोदी के सामने थी कुछ शर्ते-

कहा जाता है कि 10 सितंम्‍बर 2007 को BCCI के तत्‍कालीन अध्‍यक्षक शरदपवार ने आईपीएल में खिलाडीयों को खरीदने के लिए ललित मोदी को 25 मिलियन डॉलर का चेक दिया। ललित मोदी को यह पैसा इसलिए दिया गया कि लीग की सभी प्रोश्डियूस को अपने ऑफिस से कंट्रोल करे।

साथ ही इसके लिए उन्‍हें कोई सैलरी नही मिलेगी। इसके बदले ललित मोदी चाहते थे कि BCCI आईपीएल के काम-काज से दूर रहे और उनको IPL के Board of Governer का चयन करने की इजाजत दे।


12 दिसंबर 2007 को लॉन्‍च हुआ था IPL-

12 दिसंबर 2007 को नई दिल्‍ली में ललित मोदी ने IPL की ऑपचारिक शुरूआत की। राहुल द्रविड, सौरभ गांगुली ग्‍लेन मैक्‍सवैल और स्‍टेफन फेलिगंग जैसे- दिग्‍गज खिलाडी इसकी लॉन्चिग में शामिल हुए। लॉच के दौरान ही ये बताया गया। कि यह टूर्नामेंट कैसे खेला जायेगा, कितनी फैन्‍चार्जी होगी, मैचो की संख्‍या और टीम में शामिल होने वाले खिलाड़ीयों की भी जानकारी दी गई।

 

पहले टी-20 World Cup ने खोली IPL की राह-

कहा जाता है कि IPL की किस्‍मत बुलंद करने में T-20 World Cup का सबसे बड़ा रोल था। जो सितंबर 2007 में ही दक्षिण अफ्रीका में शुरू हुआ था। ललित मोदी ने इस टूर्नामेंट के हिसाब से उस समय दुनिया के टॉप 100 खिलाड़ीयों को उनकी कमाई और Skill के हिसाब से 4 कैटिगिरी में बांटा था।

इन खिलाड़ीयों को 1 लाख डॉलर, 2 लाख डॉलर, 3 लाख डॉलर और 4 लाख डॉलर के स्‍लैव मे रखा गया था। पहले आईपीएल में नीलामी के दौरान खिलाडि़यों का बेस Price इसी हिसाब से तय किया गया था।


ललित मोदी ने दुनियाभर के बोडो को ऐसे मनाया-

मीडिया रिपॉर्ट के मुताबिक पहले टी-20 World Cup के दौरान ललित मोदी ने कई देश के खिलाड़ीयों से मुलाकात की और उन्‍होने IPL की कमाई और दूसरे फायेदों के बारे में भी बताया।

ललित मोदी को पता था कि इस लीग के लिए दुनिया भर के क्रिकेट बोर्डो को अपने खिलाडि़यों को हर साल करीब 2 महीने के लिए भारत आने की अनुमति देनी होगी। और इसके लिए उन्‍होनें अलग-2 देशों के क्रिकेट बोर्ड के अधिकारीयोससे बैठक की और उन्‍हें आईपीएल के लिए मना लिया।


ये भी पढ़े-

आईपीएल इतिहास की अबतक की सभी विजेता व उपविजेता टीम

VIVO IPL 2021 Team List Name



एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ