Proxy वोट किसे कहते हैं ? Proxy वोट कैसे डालें?

Proxy वोट किसे कहते हैं ? Proxy वोट कैसे डालें?

 Proxy वोट किसे कहते हैं ? Proxy वोट कैसे डालें?
- दोस्तों कैसे हैं आप सभी? आशा करता हूं आप सभी स्वस्थ होंगे। आज इस आर्टिकल के माध्यम से हम आपको एक बहुत इंपॉर्टेंट तथा यूज़फुल टॉपिक पर जानकारी देने जा रहे हैं। आज इस आर्टिकल के माध्यम से हम आपको proxy वोट के बारे में जानकारी देंगे। इस आर्टिकल में हम आपको बताएंगे proxy वोट क्या है? proxy वोट कैसे डालें? दोस्तों अगर आप proxy वोट के बारे में जानना चाहते हैं और proxy वोट डालना चाहते हैं तो यह आर्टिकल आखरी तक पूरा पढ़िए। इस आर्टिकल में आपको proxy वोट से जुड़ी हुई संपूर्ण जानकारी विस्तार से दी गई है।

जैसा की आप सभी को पता है हमारा देश भारतीय संविधान के अनुसार चलता है।भारत के संविधान के अनुसार हमारा भारत देश एक लोकतांत्रिक देश है। देश में भाई भतीजावाद या राजा वंश वाद प्रथा के अनुसार देश का राजा नहीं बनाया जाता। हमारे देश में जनता के द्वारा चुने हुए प्रतिनिधि देश में नए नए नियम कानून बनाते हैं और जनता के हित में कार्य करते हैं। इन जनप्रतिनिधि को चुनने के लिए हमें वोटिंग का अधिकार है। भारत के संविधान के अनुसार देश में जन्म लेने वाला हर नागरिक वोट देने के लिए स्वतंत्र है। आप अपनी इच्छा अनुसार अपने क्षेत्र के किसी भी जनप्रतिनिधि को वोट दे सकते हैं।

Read More - Jio Mobile में विडियो सॉन्ग कैसे Download करे?

वोट देने का अधिकार देश के हर एक नागरिक को है। लेकिन हमारे देश में बहुत से लोग ऐसे हैं जो दूसरे देशों में रहते हैं या फिर वह बॉर्डर पर नौकरी करते हैं। ऐसी परिस्थिति में देश के सैनिक और एन आर आई अपना वोट नहीं डाल पाते की वजह से उनका वोट बेकार चला जाता है।

सैनिक और एन आर आई का वोट बेकार ना जाए इसके लिए सरकार ने 2017 में एक नया नियम बनाया। इसे हमें proxy वोट के नाम से जानते हैं।

Proxy वोट क्या है?

आइए दोस्तों अब हम आपका ज्यादा समय बर्बाद ना करते हुए आपको बताते हैं proxy वोट क्या है? आपकी जानकारी के लिए बता दूं proxy वोट सरकार के द्वारा दिया जाने वाला एक अधिकार है। इस अधिकार के द्वारा आप 2 वोट डाल सकते हैं। पहला आप अपना स्वयं का वोट डाल सकते हैं और दूसरा देश के n.r.i. और सैनिक का वोट भी डाल सकते हैं।

आपके घर का कोई पारिवारिक सदस्य किसी दूसरे देश में रहता है या फिर बॉर्डर पर नौकरी करते हैं तो आप उनके जगह पर वोट डाल सकते हैं और जनप्रतिनिधि चुन सकते हैं। लेकिन इसके लिए भी कुछ शर्तें होती हैं।

इस तरह एक व्यक्ति के द्वारा दो वोट डालने को proxy वोटिंग कहते हैं। proxy वोटिंग कुछ विषम परिस्थितियों में ही कराई जाती है। हर आम इंसान को proxy वोटिंग करने का अधिकार नहीं है। सिर्फ कुछ विशेष लोग ही proxy वोट डाल सकते हैं।

Proxy वोट डालने के लिए आवेदन कैसे करें?

proxy वोट डालने के लिए पहले आपको आवेदन करना होगा। इसके लिए सबसे पहले आपको अपने निर्वाचन क्षेत्र के रिटर्निंग ऑफिसर के पास जाना होगा। आपको रिटर्निंग ऑफिसर से केएफजी नाम का एक फार्म लेना होगा। इस फार्म को आपको उस सैनिक या एनआरआई के हाथों से भरवाना है जिसके बदले आप लोग डालना चाहते हैं।

जब आपका पारिवारिक सदस्य या एन आर आई फार्म को भर देगा और फार्म में दस्तखत कर देगा तो आपको इस फार्म को लेकर दोबारा रिटर्निंग ऑफिसर के पास जाना है। इसके बाद रिटर्निंग ऑफिसर फॉर्म की जांच करेगा। यदि फॉर्म की सभी जानकारी सही है और आप योग्य हैं तो आपको proxy वोट करने की परमिशन मिल जाएगी।

निष्कर्ष

तो साथियों यह आज आपके लिए एक छोटी सी जानकारी थी। आज इस आर्टिकल के माध्यम से हमने आपको बताया proxy वोट क्या है? proxy वोट कैसे डालें? आशा करता हूं यह जानकारी आपको पसंद आई होगी। अगर आपको यह जानकारी अच्छी लगी है इसे अपने दोस्तों के पास शेयर करें। आर्टिकल को आखरी तक पढ़ने के लिए बहुत-बहुत धन्यवाद।


एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ